About Alone Shayari: जीवन में अकेलापन कई लोगों को खाता है। कई लोग तो अकेलेपन (lonliness) की वजह से डिप्रेशन में भी आ जाते हैं। अकेलेपन को ही तन्हाई का नाम देते हुए कुछ शायरों ने अपने जीवन का खालीपन शायरी के द्वारा जाहिर किया है। आज हम आपको तन्हाई के ऊपर लिखी यही कुछ शायरियां (tanhai shayari) सुनाने वाले हैं।

 


Best Alone Shayari


 

alone shayari

तन्हाई शायरी – तन्हाई का क्या जिक्र करें  

महफिलों में भी अकेले हैं हम
तन्हाई का और क्या जिक्र करें
परछाई के सिवा कुछ नहीं मेरे पास
फिर खोने की क्या फिक्र करें…

Alone Shayari – Tanhai ka kya zikr kare  

Mehfilon me bhi akele hai hum
Tanhai ka or kya zikr kare
Parchai ke siva kuch nahi mere pas
Fir khone ki kya fikr kare…

 


 

शायरी – क्या गिला करें तन्हाई का  

जब अपने ही धोखा देने लगे हैं
तो किससे गिला करें बेवफाई का
जब आशियाँ ही है मेरा वीराने में
फिर क्या गिला करें तन्हाई का…

Shayari – Kya gila kare tanhai ka  

Jab apne hi dhokha dene lage hai
To kisse gila kare bewafai ka
Jab aashiya hi hai mera veerane me
Fir kya gila kare tanhai ka…

 


 

शायरी – किधर जायेगी मेरी तन्हाई  

मेरे बाद किधर जायेगी मेरी तन्हाई
मैं जो मारा तो मर जाएगी मेरी तन्हाई
जब मैं रो-रो कर दरिया बन जाऊंगा
उस दिन यार उतर जाएगी मेरी तन्हाई…

Shayari – Kidhar jayegi meri tanhai  

Mere baad kidhar jayegi meri tanhai
Me jo mara to mar jayegi meri tanhai
Jab me ro ro kar dariya ban jauga
Us din yar utar jayegi meri tanhai…

 


 

शायरी – तन्हाई मजबूरी ना होती  

शक करना अगर तेरी मजबूरी ना होती
तो आज इस कदर ये दूरी ना होती
जलते दिए तेरी मोहब्बत के घर में
तन्हाई में जीना आज मजबूरी ना होती…

Shayari – Tanhai majburi na hoti  

Shak karna agar teri majburi na hoti
To aaj is kadar ye doori na hoti
Jalte diye teri mohabbat ke ghar me
Tanhai me jeena aaj majburi na hoti…

 


 

तन्हाई शायरी – पास मेरे तन्हाई है  

जिन्हे भूलना चाहा है
उनकी यादें साथ आई हैं
वो जुदा है मुझसे
बस पास मेरे तन्हाई है…

Alone Shayari – Paas mere tanhai hai  

Jinhe bhoolna chaha hai
Unki yaade sath aai hai
Wo juda hai mujhse
Bas paas mere tanhai hai…

 


 

शायरी – तन्हाई किसको कहते है  

आवाज घुंघरुओं की मची है तो क्या हुआ
दिल के टूटने की आवाज सदा मेरे साथ है
तन्हाई किसको कहते है मुझे पता नहीं
ना जाने किस हसीना की दुआ मेरे साथ है…

Shayari – Tanhai kisko kehte hai  

Awaaz gunghruo ki machi hai to kya hua
Dil tootne ki awaaj sada mere sath hai
Tanhai kisko kehte hai mujhe pata nahi
Naa jane kis haseena ki dua mere sath hai…

 


 

शायरी – तन्हाई में कहते हो  

इस कदर पी चुके हो महफिल में
तन्हाई में कहते हो अभी प्यास बाकी है
चिराग बुझ चुके हैं सुबह होने को है
तुम कहते हो अभी रात बाकी है…

Shayari – Tanhai me kehte ho  

Is kadar pi chuke hai mehfil me
Tanhai me kehte ho abhi pyaas baki hai
Chirag bujh chuke hai subha hone ko hai
Tum kehte ho abhi rat baaki hai…

 


 

शायरी – दूर हो जाएगी तन्हाई  

खुशियां पाना चाहते हो तो
गमों से प्यार करके देखो
दूर हो जाएगी तन्हाई भी
हमसे इकरार करके देखो…

Shayari – Door ho jayegi tanhai  

Khushiya paana chahte ho to
Gumo se pyar karke dekho
Door ho jayegi tanhai bhi
Humse ikraar karke dekho…

 


 

शायरी – तन्हाई मिलती है  

तन्हाई मिलती है मंजिल नहीं मिलती
दिल टूट गया है मेरा ऐसा दर्द मिला
यह तो मेरी उल्फत का अंजाम है यारों
कि उसका अक्स मिला नाम नहीं मिला…

Shayari – Tanhai milti hai  

Tanhai milti hai manzil nahi milti
Dil toot gaya hai mera aisa dard mila
Yah to meri ulfat ka anjaam hai yaro
Ki uska aks mila naam nahi mila…

 


 

तन्हाई शायरी – आज दूर होगी तन्हाई  

आज तू है मेरे पास सनम
कल फिर शाम उदास होगी
आज दूर होगी मेरी तन्हाई
कल तेरी बेवफाई पास होगी…

Alone Shayari – Aaj door hogi tanhai  

Aaj tu hai mere paas sanam
Kal fir shaam udaas hogi
Aaj door hogi meri tanhai
Kal teri bewafai paas hogi…

 


Latest Tanhai Shayari


 

tanhai shayari

तन्हाई शायरी – तनहा ना रहने दूँगी  

शराब शबाब की कमी
ऐ मेहबूब तुम्हे ना होने दूँगी
तेरा हर गम उठा लूंगी
तनहा तुम्हे ना रहने दूँगी…

Tanhai Shayari – Tanha naa rehne dungi  

Sharab shabaab ki kami
Ae mehboob tumhe na hone dungi
Tera har gum utha lungi
Tanha tumhe naa rehne dungi…

 


 

शायरी – रात की तन्हाइयों में  

रात की इन तन्हाइयों में
चंद यादों का सहारा होता है
हम होते हैं बिस्तर में
रात तकिये का सहारा होता है…

Shayari – Rat ki tanhaiyo me  

Rat ki in tanhaiyo me
Chand yado ka sahara hota hai
Hum hote hai bistar me
Raat takiye ka sahara hota hai…

 


 

शायरी – गुजरती हैं रातें तन्हाई में  

अब तो गुजरती हैं रातें तन्हाई में
समय हम रो रोकर गुजरा करते हैं
की बेवफाई तुमने हुई जुदा मुझसे
फिर भी तेरा नाम लेकर जीना गंवारा करते हैं…

Shayari – Guzarti hain raate tanhai me  

Ab to guzarti hain raate tanhai me
Samay hum ro ro kar gujara karte hai
Ki bewafai tumne hui juda mujhse
Fir bhi tera naam lekar jeena gavara karte hai…

 


 

शायरी – आदत हो गई तन्हाई में जीने की  

हमें आदत हो गई तन्हाई में जीने की
अब किसी से दिल लगाने का फायदा क्या है
जब अब तक ना सीख पाए चलन वफा का
फिर आपका महफिल में आने का फायदा क्या है…

Shayari – Aadat ho gai tanhai me jeene ki  

Hume aadat ho gai tanhai me jeene ki
Ab kisi se dil lagaane ka fayda kya hai
Jab ab tak naa seekh paye chalan wafa ka
Fir aapka mehfil me aane ka fayda kya hai…

 


 

तन्हाई शायरी – तन्हाई में मिल जाउंगी  

बदनामी से डरते हो तो
तन्हाई में मिल जाउंगी
जब भी याद करोगे मुझे
मैं दौड़कर चली आउंगी…

Tanhai Shayari – Tanhai me mil jaungi  

Badnaami se darte ho to
Tanhai me mil jaungi
Jab bhi yaad karoge mujhe
Me daudkar chali aaungi…

 


 

शायरी – उस पार तन्हाई है  

रोने से नहीं हासिल कुछ ऐ दिले सौदाई
आँखों की भी बर्बादी दामन की भी रुस्वाई
हम लोग समुन्दर के बिछड़े साहिल हैं
उस पार भी तन्हाई है इस पार भी तन्हाई…

Shayari – Us par tanhai hai  

Rone se nahi haasil kuch ae dile saudai
Aankho ki bhi barbadi daaman ki bhi ruswai
Hum log samundar ki bichde sahil hai
Us par bhi tanhai hai is par bhi tanhai…

 


 

शायरी – याद आओगी तन्हाई में  

तुम याद आओगी तन्हाई की रातों में
अरमान भड़क उठेंगे फिर मेरे बरसातों में
तुम तो भुला दोगी एक दिन प्यार मेरा
पर याद आओगी फिर बातों बातों में…

Shayari – Yad aaogi tanhai me  

Tum yad aaogi tanhai ki rato me
Armaan bhadak uthenge fir mere barsato me
Tum to bhula dogi ek din pyar mera
Per yaad aaogi fir bato bato me…

 


 

शायरी – तन्हाई दूर कर दूँगी  

बाँहों में आ जाओ तुम प्यारे
हर गिला शिकवा दूर कर दूँगी
नजर मिला कर देखो मुझसे
तेरी तन्हाई दूर कर दूँगी…

Shayari – Tanhai door kar dungi  

Baho me aa jao tum pyare
Har gila shikwa door kar dungi
Nazar mila kar dekho mujhse
Teri tanhai door kar dungi…

 


 

शायरी – शाम की तन्हाई में  

खुदा जाने कब वो दिन आएगा
जब पास बुलाने की उनकी भी आरजू होगी
वो मिलेगी शाम की तन्हाई में
उस दिन पूरी मेरी हर आरजू होगी…

Shayari – Shaam ki tanhai me  

Khuda jaane kab wo din aayega
Jab pas bulane ki unki bhi aarzoo hogi
Wo milegi shaam ki tanhai me
Us din poori meri har aarzoo hogi…

 


 

तन्हाई शायरी – तुम्हें तनहा छोड़ जाएंगे  

मत दो सदा अब दिलबर मेरे
हम फिर लौट कर ना आएंगे
तुम रोओगे लिपट कर कब्र से
जब हम तुम्हें तनहा छोड़ जाएंगे…

Tanhai Shayari – Tumhe tanha chod jayege  

Mat do sada ab dilbar mere
Hum fir lautkar naa aayenge
Tum roge lipat kar kabr se
Jab hum tumhe tanha chod jayege…

 


Alone Shayari in Hindi


 

alone shayari in hindi

तन्हाई शायरी – दूसरी तरफ तन्हाई है  

एक तरफ सनम रुस्वाई है
दूसरी तरफ मेरी तन्हाई है
तू ही बता जाए तो कहाँ जाए
इधर कुआँ उधर खाई है…

Alone Shayari – Dusri taraf tanhai hai  

Ek taraf sanam ruswai hai
Dusri taraf meri tanhai hai
Tu hi bata jaaye to kaha jaaye
Idhar kua udhar khai hai…

 


 

शायरी – महफ़िल हो या तन्हाई  

खुदा करे किसी दिलरुबा से
हसीं पलों में मुलाकात हो जाए
महफ़िल हो या तन्हाई
दिल की दिल से बात हो जाए…

Shayari – Mehfil ho ya tanhai  

Khuda kare kisi dilruba se
Haseen palo me mulakat ho jaye
Mehfil ho ya tanhai
Dil ki dil se baat ho jaye…

 


 

शायरी – एक दम तनहा हूँ  

एक दम तनहा हूँ महफिल में
दम भर को ठहर जाओ सांस लेने दो
मर मर कर जीता रहा हूँ
अब कुछ देर के लिए तो मुझे जीने दो…

Shayari – Ekdam tanha hu  

Ekdam tanha hu mehfil me
Dum bhar ko thahar jao saans lene do
Mar mar kar jeeta raha hu
Ab kuch der ke liye to mujhe jeene do…

 


 

शायरी – आदत हो गई तन्हाई की  

ये ना सोचना कैसे जी रहे हैं तेरे बगैर
अब तो आदत हो गई है तन्हाई की
खता माफ करना सीखी है नई अदा हमने
तेरे हर जख्म सहकर मुस्कुराने की…

Shayari – Aadat ho gai tanhai ki  

Ye na sochna kaise jee rahe hai tere bagair
Ab to aadat ho gai hai tanhai ki
Khata maaf karna seekhi hai nai ada humne
Tere har zakhm sehkar muskurane ki…

 


 

तन्हाई शायरी – तनहा छोड़ दो  

तुम दगा समझो या वफा सनम
हम दूर हो जाएंगे आकर करीब से
तुम मिलो हमसे या तनहा छोड़ दो
हम तुम्हारे हो जाएंगे मगर नसीब से…

Alone Shayari – Tanha chod do  

Tum daga samjho ya wafa sanam
Hum door ho jayenge aakar kareeb se
Tum milo humse ya tanha chod do
Hum tumhare ho jayenge magar naseeb se…

 


 

शायरी – दूर हो जाएँगी तन्हाईयाँ  

आप हसीं आपकी हसीं ये परछाइयां
देखते ही आपको मेरे दिल में बजती है शहनाइयां
जो आ जाओ तुम मेरी वीरान जिंदगी में
तो दूर हो जाएँगी इस जिंदगी से तन्हाईयाँ…

Shayari – Door ho jayengi tanhaiya  

Aap haseen aapki haseen ye parchaiya
Dekhte hi aapko mere dil me bajti hai sehnaiya
Jo aa jao tum meri veeran zindgi me
To door ho jayengi is zindgi se tanhaiya…

 


 

शायरी – तुम कोसते हो तन्हाई में  

घुंघरू दिए हैं आपने
प्यार के बदले हमने महफिल पाई है
तुम कोसते हो हमें तन्हाई में
हमने सरे महफिल तुम्हे दिल की बात बताई है…

Shayari – Tum koste ho tanhai me  

Ghunghru diye hai aapne
Pyar ke badle humne mehfil paai hai
Tum koste ho hume tanhai me
Humne sare mehfil tumhe dil ki bat batai hai…

 


 

शायरी – रोओगे याद करके तन्हाई में  

खाक में मिल जाएंगे जब हम
हर पल हर दिन याद आएंगे तुम्हें
रोओगे याद करके हमें तन्हाई में
मर कर भी हम याद आएंगे तुम्हें…

Shayari – Roge yaad karke tanhai me  

Khaak me mil jayenge jab hum
Har pal har din yaad aayenge tumhe
Roge yaad karke hume tanhai me
Mar kar bhi hum yaad aayenge tumhe…

 


 

शायरी – बनती हैं तन्हाईयाँ नसीब  

दर्द ही दर्द मिलता है दिल लगाने के बाद
हसरत खाक हो जाती है प्यार में पड़ने के बाद
नहीं मिलती महफिल बनती हैं तन्हाईयाँ नसीब
उजड़ जाती है दुनिया मोहब्बत करने के बाद…

Shayari – Banti hai tanhaiya naseeb  

Dard hi dard milta hai dil lagaane ke baad
Hasrat khaak ho jati hai pyar me padne ke baad
Nahi milti mehfil banti hai tanhaiya naseeb
Ujad jaati hai duniya mohabbat karne ke baad…

 


 

तन्हाई शायरी – मैंने की बेवफाई तन्हाई में  

खाक मांग सजाऊंगी मैं अब
तुमने मुझे रुस्वा सरे बाजार किया
मैंने तो की बेवफाई तन्हाई में
तुमने मुझे बदनाम सरे बाजार किया…

Alone Shayari – Maine ki bewafai tanhai me  

Khaak maang sajaungi me ab
Tumne mujhe ruswa sare bazar kiya
Maine to ki bewafai tanhai me
Tumne mujhe badnaam sare bazar kiya…

 


Tanhai Shayari in Hindi


 

tanhai shayari in hindi

तन्हाई शायरी – तन्हाइयों में क्यों सजा देते हो  

तन्हाइयों में क्यों हमें सजा देते हो
आखिर क्यों दर्द मेरा बढ़ा देते हो
मैं लिखती हूँ अपने लहू से खत
आखिर क्यों तुम उन्हें जला देते हो…

Tanhai Shayari – Tanhaiyo me kyu saja dete ho  

Tanhaiyo me kyu hume saja dete ho
Aakhir kyu dard mera bada dete ho
Me likhti hu apne lahu se khat
Aakhir kyu tum unhe jala dete ho…

 


 

शायरी – गुजरती है दिल पर तन्हाई  

गुजरती है मेरे दिल पर तन्हाई धीरे धीरे
कभी तो हम मिलते थे पहाड़ी के किनारे
आती थी जब भी उन गुजरे लम्हों की याद
आंसू बहते हैं इन आँखों से धीरे धीरे…

Shayari – Gujarti hai dil par tanhai  

Gujarti hai mere dil par tanhai dheere dheere
Kabhi to hum milte the pahadi ke kinaare
Aati thi jab bhi un gujre lamho ki yaad
Aansu behte hai in aakho se dhere dhere…

 


 

शायरी – तन्हाई के सिवा कोई न हो  

शुरू करेंगे हम नया दौर जिंदगी
जहाँ मेरी तन्हाई के सिवा कोई न हो
साथ हो सिर्फ मेरी शायरी मयकशी
जहाँ तेरी बेवफाई के सिवा कोई ना हो…

Shayari – Tanhai ke siva koi na ho  

Shuru karenge hum naya daur zindgi
Jaha meri tanhai ke siva koi na ho
Sath ho sirf meri shayari mehkashi
Jaha teri bewafai ke siva koi na ho…

 


 

शायरी – तन्हाई में ही जान करार होता है  

आदत हो गई तुमसे बिछड़कर जीने की
अब तो तन्हाई में ही जान करार होता है
लोगों को सुकून मिलता है महफिल में
हमें तो तन्हाई में तुम पर प्यार आता है…

Shayari – Tanhai me hi jaan karar hota hai  

Aadat ho gayi tumse bichadkar jeene ki
Ab to tanhai me hi jaan karar hota hai
Logo ko sukoon milta hai mehfil me
Hume to tanhai me tum par pyar aata hai…

 


 

तन्हाई शायरी – जिंदगी तन्हाई भरी शाम है  

मेरे नाम की चमक दिखती है तुम्हे
मेरी जिंदगी एक अंधियारी रात है
तुम्हे दिखाई पड़ती है महफिल साकी
मेरी जिंदगी एक तन्हाई भरी शाम है…

Tanhai Shayari – Zindgi tanhai bhari shaam hai  

Mere naam ki chamak dikhti hai tumhe
Meri zindgi ek andhiyari raat hai
Tumhe dikhai padti hai mehfil saaki
Meri zindgi ek tanhai bhari shaam hai…

 


 

शायरी – तन्हाई की पलकों को भिगो लूँ  

अपनी तन्हाई की पलकों को भिगो लूँ पहले
फिर गजल तुझ पर लिखूंगा बैठ के रो लूँ पहले
ख्वाब के साथ कहीं खो ना गयी हों दो आँखे
जब उठूं सो के तो तेरे चेहरे को टटोलू पहले…

Shayari – Tanhai ki palko ko bhigo lu  

Apni tanhai ki palko ko bhigo lu pehle
Fir gazal tujhe par likhuga baith ke ro lu pehle
Khwaab ke sath kahi kho na gayi ho do aankhe
Jab uthu so ke to tere chehre ko tatolu pehle…

 


 

शायरी – तन्हाई में काश ये दिल  

आँखे गजल और नजर मैखाना बन जाए
तन्हाई में काश ये दिल किसी का ठिकाना बन जाए
तुम ना करना इस कदर बेवफाई मेरा साथ
तेरा यही गम शायद मेरी मौत का बहाना ना बन जाए…

Shayari – Tanhai me kaash ye dil  

Aankhe gazal or nazar mehkhana ban jaye
Tanhai me kaash ye dil kisi ka thikana ban jaye
Tum na karna is kadar bewafai mere saath
Tera yahi gum shayad meri maut ka bahana na ban jaye…

 


 

शायरी – रोना पड़ता है तन्हाई में  

आज रोना पड़ता है तन्हाई में
बिना वजह महफिल में मुस्कुराने आए हैं
कभी जीते थे जिनके नाम पे हम
आज वही हमें गम हजार देने आए हैं…

Shayari – Rona padta hai tanhai me  

Aaj rona padta hai tanhai me
Bina wajah mehfil me muskurane aaye hai
Kabhi jeete the jinke naam pe hum
Aaj wahi hume gum hazar dene aaye hai…

 


 

शायरी – मिलूंगी तन्हाई में  

मिलूंगी तन्हाई में हर सवाल का जवाब बनकर
दिल में उतर जाउंगी तेरे एक हसीं खवाब बनकर
आज देने से डरते हो तुम जवाब मेरी बात का
कल मिलूंगी तुमसे प्यारे मैं लाजवाब बनकर…

Shayari – Milungi tanhai me  

Milungi tanhai me har sawal ka jawab bankar
Dil me utar jaungi tere ek haseen khwaab bankar
Aaj dene se darte ho tum jawab meri baat ka
Kal milungi tumse pyaare me lajwaab bankar…

 


 

तन्हाई शायरी – तनहा ना रहने दोगे  

मर भी गए हम अगर तो तुम
हमें वहां भी चैन से ना रहने दोगे
रोओगे आकर मेरी कब्र पे रोज
तनहा हमें वहां भी ना रहने दोगे…

Tanhai Shayari – Tanha naa rehne doge  

Mar bhi gaye hum agar to tum
Hume wah bhi chain se naa rehne doge
Roge aakar meri kabr pe roj
Tanha hume waha bhi naa rehne doge…

 

यह भी पढ़िए: गम से भरी हुई Sad शायरियां

 

तो दोस्तों तन्हाई के ऊपर लिखी ये शायरियाँ कैसी लगी आपको नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट (Alone Shayari) को शेयर करें और ऐसे ही शायरियाँ पड़ते रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें।
हमसे जुड़े रहने के लिए पास में दिए घंटी के बटन को दबा कर ऊपर आये नोटिफिकेशन पर Allow का बटन दबा दें जिससे की आप अन्य खबरों का लुफ्त भी उठा पाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here