गम भरी अश्क शायरी | Gam Bhari Ashq Shayari


 

aansoo shayari

अश्क शायरी – आंसू खुद व खुद आ गए

पीकर चले थे महफ़िल से
कदम खुद व खुद लड़खड़ा गए
तुमने की बात जज्बात की
आंसू खुद व खुद बहार आ गए…

Ashq Shayari – Aansu khud va khud aa gaye

Peekar chale the mehfil se
Kadam khud va khud ladkhada gaye
Tumne ki baat jazbaat ki
Aansu khud va khud bahar aa gaye…

 


 

शायरी – पीते रहेंगे अश्क

जीते रहेंगे हम ऐसे ही
गम को छुपाकर दिल में
पीते रहेंगे अश्क हमेशा
तेरे सुहानी इस महफिल में…

Shayari – Peete rahenge ashq

Jeete rahenge hum aise hi
Gum ko chupakar dil me
Peete rahenge ashq hamesha
Tere suhani is mehfil me…

 


 

शायरी – अश्क़ पलकों में

कैसे समझाए ऐ सनम तुम्हें दिल की बात
एक तुम हो कि जानकर अनजान बनते हो
अश्क़ पलकों में हमसे छिपाये नहीं जाते
एक तुम हो कि जानकर अनजान बनते हो…

Shayari – Ashq palko me

Kaise samjhaye ae sanam tumhe dil ki baat
Ek tum ho ki jaankar anjaan bante ho
Ashq palko me humse chipaaye nahi jaate
Ek tum ho ki jaankar anjaan bante ho…

 


 

शायरी – अश्क आ गए आँखों में  

नई दुनिया बसी उनकी दुनिया वालों
दूसरी दुनिया में हम भी घर बनाने लगे हैं
अश्क आ गए उनकी भी आँखों में आज
जब लोग मैय्यत को मेरी दफनाने लगे हैं…

Shayari – Ashq aa gaye aankho me

Nai duniya basi unki duniya walo
Dusri duniya me hum bhi ghar banane lage hai
Ashq aa gaye unki bhi aankho me aaj
Jab log maiyyat ko meri dafnaane lage hai…

 


 

अश्क शायरी – अश्क पलकों पे सजा लूंगी  

तुम्हें मिले हर ख़ुशी सनम
तेरे हर गम मैं उठा लूंगी
तेरी हर ख़ुशी के लिए मैं
अपने अश्क पलकों पे सजा लूंगी…

Ashq Shayari – Ashq palkon pe saja loongi

Tumhe mile har khushi sanam
Tere har gum main utha lungi
Teri har khushi ke liye main
Apne ashq palkon pe saja loongi…

 


 

शायरी – हमें अश्क बहाने से फुर्सत नहीं

उधर शोर मच रहा है शहनाई का
इधर हमें अश्क बहाने से फुर्सत नहीं है
कौन सुनता है ज़माने में सदा दिल की
इस ज़माने में गम उठाने की इजाजत नहीं है…

Shayari – Hume ashq bahaane se fursat nahi

Udhar shor mach raha hai shehnai ka
Idhar hume ashq bahaane se fursat nahi hai
Kaun sunta hai zamaane me sadaa dil ki
Is zamaane me gum uthaane ki izazat nahi hai…

 


 

शायरी – क्या मिलेगा आंसू बहाने के बाद  

रो-रो कर गुजर जाएगी ता उम्र
अब क्या मिलेगा आंसू बहाने के बाद
उसने बेच दी सनम वफ़ा अपनी
अब क्या मिलेगा दिल जलाने के बाद…

Shayari – Kya milega aansu bahaane ke baad

Ro-ro kar gujar jayegi ta umr
Ab kya milega aansu bahaane ke baad
Usne bech di sanam wafa apni
Ab kya milega dil jalaane ke baad…

 


 

शायरी – अश्क बह निकलते हैं

जब तेरी याद आती है अश्क बह निकलते हैं
हम भटक जाते हैं तेरी यादों के वीराने में
तू तो रहती है हमेशा महफिल में
हम भटक जाते हैं जान वीराने में…

Shayari – Ashq beh nikalte hai

Jab teri yaad aati hai ashq beh nikalte hai
Hum bhatak jaate hai teri yaado ke veerane me
Tu to rehti hai humesha mehfil me
Hum bhatak jaate hai jaan veerane me…

 


 

शायरी – पीने हैं जाम ऐ अश्क़

क्यों हमपे ये जुर्म किया जाता है
क्यों हमें चलना पड़ता है वफ़ा की राहों में
क्यों पीने पड़ते हैं जाम ऐ अश्क़
क्यों गिरना पड़ता है हमें निगाहों में…

Shayari – Peene hai jaam ae ashq

Kyu humpe ye jurm kiya jata hai
Kyu hume chalna padta hai wafa ki raho me
Kyu peene padte hai jaam ae ashq
Kyu girna padta hai hume nigaho me…

 


 

अश्क शायरी – इजाजत अश्क बहाने की

ऐ खुदा जब गम दिया
तो इजाजत भी दी होती अश्क बहाने की
जिनका नहीं है कोई वास्ता वफा से
क्यों उन्हें इजाजत दी किसी से दिल लगाने की…

Ashq Shayari – Izazat ashq bahane ki

Ae khuda jab gum diya
To izazat bhi di hoti ashq bahane ki
Jinka nahi hai koi vaasta wafa se
Kyu unhe izazat di kisi se dil lagaane ki…

 


दर्द आंसू शायरी | Aankhon Mein Aansu Shayari


 

आंसू शायरी – अपने आंसुओं को

तेरा दर्द मैंने
सीने से लगाकर रखा है
अपने आंसुओं को
पलकों तले छिपा रखा है…

Aansu Shayari – Apne aansuo ko

Tera dard maine
Seene se lagakar rakha hai
Apne aansuo ko
Palko tale chipa rakha hai…

 


 

शायरी – आँखों में आंसू होंगे  

हर आँखों में आंसू होंगे
हर लब पे फरियाद होगी
एक तरफ जनाजा दूसरी तरफ बरात होगी
बस वही मेरी जिंदगी की आखिरी रात होगी…

Shayari – Aankho me aansu honge

Har aankho me aansu honge
Har lab pe fariyaad hogi
Ek taraf janaza dusri taraf baraat hogi
Bas wahi meri zindgi ki aakhiri raat hogi…

 


 

शायरी – रो-रो कर गुजार दी उम्र

रो-रो कर गुजार दी तमाम उम्र
चंद नोट दिखाकर ले गए मोहब्बत मेरी
जिसका वादा था ता उम्र का
नोटों पे बिक गयी आज मोहब्बत मेरी…

Shayari – Ro-ro kar guzaar di umr

Ro-ro kar guzaar di tamaam umr
Chand not dikhakar le gaye mohabbat meri
Jiska vaada tha ta umr ka
Noto pe bik gayi aaj mohabbat meri…

 


 

शायरी – आँखों में अश्क भरकर

अलविदा कहा उन्होंने आँखों में अश्क भरकर
हम उन्हें जी भरकर निहार भी ना सके
हो गई ओझल आँखों से डोली
हम हाथ भी उनकी तरफ हिला ना सके…

Shayari – Aankho me ashq bharkar

Alvida kaha unhone aankho me ashq bharkar
Hum unhe ji bharkar nihar bhi naa sake
Ho gayi ojhal aankho se doli
Hum hath bhi unki taraf hila naa sake…

 


 

आंसू शायरी – अश्कों की दौलत

खोकर हर ख़ुशी मैंने
ये अश्कों की दौलत पाई है
बहाकर लहू अपने दिल का
ये कलम मेरे हाथ में आई है…

Aansu Shayari – Ashq ki daulat

Khokar har khushi maine
Ye ashq ki daulat paai hai
Bahaakar lahu apne dil ka
Ye kalam mere hath me aai hai…

 


 

शायरी – आंसू तक बहा ना सकूँ

क्या मुझसे खता हुई दिल लगाने की
क्या यही सजा है कि आंसू तक बहा ना सकूँ
लब सी लूँ, छुपा लूँ दर्द सीने में
क्या यही सजा है कि हाल ऐ दिल बता ना सकूँ…

Shayari – Aansu tak baha naa saku

Kya mujhse khata hui dil lagaane ki
Kya yahi sajaa hai ki aansu tak baha naa saku
Lab si lu chupa lu dard seene me
Kya yahi saja hai ki haal ae dil bata naa saku…

 


 

शायरी – अश्क़ बह जायेंगे

मत दो मुझे पैगाम वफ़ा के
अश्क़ बह जायेंगे वफ़ा के नाम पे
भुला दो बस नाम सनम का
जमाने वाले जल जायेंगे तेरे काम से…

Shayari – Ashq beh jayenge

Mat do mujhe paigaam wafa ke
Ashq beh jayenge wafa ke naam pe
Bhula do bas naam sanam ka
Zamaane wale jal jayenge tere kaam se…

 


 

शायरी – अश्कों की स्याही

हर खुशी कर दी जमाने के हवाले हमने
अपना दर्द बयान कर रहा हूँ अश्कों की स्याही से
खता हमारी माफ हो जमाने वालों
तुम्हारी हकीकत लिख रहा हूँ अश्कों की रोशनाई से…

Shayari – Ashqo ki syaahi

Har khushi kar di zamaane ke hawale humne
Apna dard bayan kar raha hu ashqo ki syaahi se
Khata humari maaf ho zamaane walo
Tumhari hakikat likh raha hu ashqo ki roshnaai se…

 


 

शायरी – निकले अश्कों को

आँखों से निकले अश्कों को
मैं स्याही बनाता हूँ
दिल की कलम से मैं
इस खत को लिखता हूँ…

Shayari – Nikle ashqo ko

Aankho se nikle ashqo ko
Main syaahi banaata hu
Dil ki kalam se main
Is khat ko likhta hu…

 


 

आंसू शायरी – अश्कों की रोशनाई से

कसूर ना तुम्हारा है न मेरा
किस्मत लिखी है अश्कों की रोशनाई से
मिलकर जुदा होते हैं जो
मुकद्दर लिखा है सिर्फ बेवफाई से…

Aansu Shayari – Ashqo ki roshnai se

Kasoor naa tumhara hai naa mera
Kismat likhi hai ashqo ki roshnai se
Milkar judaa hote hai jo
Mukaddar likha hai sirf bewafai se…

 


 

तो दोस्तों आपको ये शायरियाँ कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट को शेयर करें और ऐसे ही शायरियाँ पड़ते रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें।
हमसे जुड़े रहने के लिए पास में दिए घंटी के बटन को दबा कर ऊपर आये नोटिफिकेशन पर Allow का बटन दबा दें जिससे की आप अन्य खबरों का लुफ्त भी उठा पाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here