hemp seeds in hindi

About Hemp Seeds in Hindi: दुनियाभर में कई तरह के बीज पाए जाते हैं जिसमें से कुछ बीजों का इस्तेमाल हम भोजन और जूस को स्वादिष्ट बनाने के लिए करते हैं। अभी तक आपने भी तिल बीज, अलसी बीज, तुलसी बीज, सनफ्लॉवर बीज, कद्दू बीज का उपयोग भोजन को स्वादिष्ट बनाने के लिए किया होगा। लेकिन आज हम जिस बीज की बात कर रहे हैं आपने उसका नाम तो जरूर सुना होगा किन्तु आप उसका उपयोग करने से कतराते होंगे जी हाँ दोस्तों हम जिसकी बात कर रहे हैं उन्हें भांग बीज (hemp seeds in hindi) के नाम से जाना जाता है।

भांग बीज को लेकर अक्सर लोगों के मन में धारणा बनी हुई है कि भांग बीज के इस्तेमाल से नशा आता है जबकि ऐसा नहीं है। भांग बीज पौष्टिक और औषधि बीज है जिसके इस्तेमाल से कई तरह के रोंगो से बचा जा सकता है। भांग बीजों का सेवन सीमित मात्रा में करने पर यह एक दवा के रूप में कार्य करते हैं। यदि आप Hemp seeds का उपयोग करने से डरते हैं या भांग भीज का उपयोग नहीं करते हैं तो आज का लेख पढ़ने के बाद आप भांग बीज का उपयोग जरूर करने लगेंगे क्यूंकि आज हम आपको भंग बीज के फायदों से रूबरू कराने वाले हैं। तो चलिए देर किस बात की आइये भांग के बीज के बारे में विस्तार से जानते हैं।

 

Page Contents

क्या है भांग बीज | What is Hemp Seeds in Hindi

भांग बीज को मैरिजुआना और कैनाबीस के नाम से भी जाना जाता है। भांग बीज भांग के पौधे से प्राप्त होने वाले बीज हैं जिनका इस्तेमाल नशीले पदार्थों और दवाओं में किया जाता है। भांग बीजों का आकार अलसी के बीजों के सामान होता है जिनका रंग हरा होता है। भांग के बीजों में टीएचसी के छोटे-छोटे रेशे पाए जाते हैं जिसकी वजह से नशा आता है। भांग के बीजों से तेल भी तैयार किया जाता है जिसमें भांग बीजों की तरह ही औषधिये गुण पाए जाते हैं।

अब यूं तो नशीले पधारतों का इस्तेमाल करना सही नहीं है परन्तु अगर भांग के बीजों का सही तरह से सही मात्रा में उपयोग करे तो यह फायदेमंद साबित होते हैं। खास बात यह है की भांग बीजों में 9 प्रकार के amino acid पाए जाते हैं जो मनुष्य को प्राकृतिक रूप से प्राप्त नहीं होते हैं। भांग बीज प्रोटीन का मुख्य अवयव है जिसके माध्यम से आप अपने शरीर को स्वस्थ बना सकते हैं।

 

कैसा होता है भांग के बीज का पौधा | What Hemp plant look like

hemp plants in hindi

भांग पौधे का वैज्ञानिक नाम कैनाबिस सेटिवा (Cannabis sativa) है जिसकी औसतन लम्बाई लगभग चार से आठ फिट की होती है। भांग के पौधे की दो प्रजातियां पाई जाती हैं नर और मादा। भांग की नर प्रजाति को भांग के नाम से जाना जाता है जबकि मादा प्रजाति को गांजा के नाम से जाना जाता है।

 

भांग बीज में पाए जाने वाले पोषक तत्व | Nutrients of Hemp Seeds in Hindi

भांग बीज एक गुणकारी बीज है जिसमें प्रोटीन, कैल्शियम, पोटेशियम, मैग्नीशियम, आयरन, ओमेगा 3 फैटी एसिड, ओमेगा 6 फैटी एसिड, कार्बोहाइड्रेट, फाइबर, फैटी एसिड टोटल सैचुरेटेड, फास्‍फोरस, मैंगनीज, जिंक, तांबा, विटामिन ई, सल्फर, एंटी-ऑक्सीडेंट्स, एंटी-इन्फ्लेमेटरी तत्व उच्च मात्रा में पाए जाते हैं।

 

भांग बीजों का उत्पादन कहाँ होता है | Where did Hemp Seeds found

भांग का उत्पादन भारत में हजारों वर्षों पहले से हो रहा है। भांग एक ऐसा पौधा है जो स्वयं ही किसी भी स्थान पर अपने आप उग आते हैं जिसकी वजह से भांग का उत्पादन पुरे भारत देश में होता है। लेकिन पश्चिम बंगाल, बिहार और उत्तरप्रदेश में भांग की खेती सर्वाधिक मात्रा में की जाती है।

 

भांग बीज के फायदे | Benefits of Hemp Seeds in Hindi

hemp benefits in hindi

दोस्तों विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार यदि भांग का इस्तेमाल सही तरीके से किया जाये तो इसके अनेक गुणकारी फायदे होते हैं। अभी तक भांग बीजों का उपयोग केवल नशीले पदार्थों में ही किया जाता था लेकिन इसके औषधिये गुणों से अवगत होने के बाद आज सम्पूर्ण विश्व में भांग बीजों का इस्तेमाल स्वास्थवर्धक फायदों में भी होने लगा है। तो चलिए अब आपको भांग बीज के फायदों से रूबरू करते हैं।

 

1. मस्तिष्क को सक्रिय बनाता है भांग बीज | Makes mind active

वर्तमान समय में प्रतिस्पर्धा बढ़ जाने से मस्तिष्क को एक मशीन की तरह काम करना पड़ता है। जिसकी वजह से प्रतिवर्ष औसतन 85% लोग मानसिक तनाव से ग्रस्त हो जाते हैं। मानसिक तनाव न सिर्फ लोगों को चिड़चिड़ा बनाता है बल्कि लोगों की याददाश्त भी कमजोर करता है। भांग बीजो में हैपी हार्मोन अर्थात डोपामीन पाए जाते हैं जो तनाव को कम करते हैं इसके आलावा भांग बीज में एंटी-ऑक्सीडेंट्स और एंटी-इन्फ्लेमेटरी तत्व भी पाए जाते हैं जो कई तरह के मस्तिष्क विकारों को दूर करके मस्तिष्क को सक्रिय बनाते हैं।

 

2. कोलेस्ट्रॉल के स्तर को करता है कम | It helps to decrease cholesterol

मानव शरीर के लिए संतुलित मात्रा में कोलस्ट्रोल का होना जरुरी है लेकिन जब यही कोलस्ट्रोल शरीर में अत्यधिक मात्रा में जमा हो जाता है तो सम्पूर्ण शरीर के लिए घातक बन जाता है। कोलस्ट्रोल के बढ़ने से हार्ट अटैक जैसे कई रोग होने की सम्भावना बढ़ जाती है। बड़े हुए कोलस्ट्रोल को नियंत्रित करने के लिए आप भांग के बीजों का इस्तेमाल कर सकते हैं। दरअसल भांग बीज में कई तरह के फैटी एसिड पाए जाते हैं जो एलडीएल यानि हानिकारक कोलस्ट्रोल को नियंत्रित करते हैं। शोधकर्ताओं के मुताबिक भांग एलडीएल कोलस्ट्रोल को 20% तक कम कर सकता है।

 

3. निद्रा की समस्या में है रामबाण | Improve your sleep with hemp seeds in hindi

अनिद्रा का अर्थ नींद का नहीं आना होता है। तनाव, चिंता, गलत खानपान, समय पर ना सोना, समय पर ना जागना ही अनिद्रा जैसी बीमारी का कारण होते हैं। नींद नहीं आने की वजह से मानवीय शरीर कई तरह की बिमारियों से पीड़ित हो जाता है इसलिए इस बीमारी को दूर करने के लिए अक्सर लोग एलोपैथिक दवाइयों का सेवन करते हैं जिसका दुष्प्रभाव किडनी पर पड़ता है। बता दें इस जटिल समस्या से छुटकारा पाने के लिए आप भांग बीज का उपयोग कर सकते हैं। भांग बीज में एंटीऑक्सीडेंट, मैग्नीशियम और फाइबर पाया जाता है जो हार्मोन्स में बदलाव करके अनिद्रा की समस्या को कम करने में मदद करते हैं।

 

4. हड्डी विकारों को दूर करने में है फायदेमंद | Get rid of bone problems

शरीर के प्रत्येक अंग में हड्डियां और मासपेशियां पाई जाती हैं। जब हड्डियों और मासपेशियों को सही मात्रा में पौष्टिक पोषक तत्व नहीं मिलते हैं तो कमजोर होने के आलावा यह कई रोगों से ग्रस्त हो जाती हैं। भांग बीज में कैल्शियम, पोटैशियम, जिंक, मैग्नीशियम, प्रोटीन और एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है जो हड्डियों को मजबूत बनाने के साथ ही हड्डियों में आने वाली सूजन को कम करते हैं साथ ही हड्डियों में होने वाले कई तरह के इन्फेक्शन को भी कम करने में सहायक होते हैं।

 

5. त्वचा सम्बन्धी रोगों में है फायदेमंद | Beneficial in skin related diseases

त्वचा सम्बन्धी रोग कई तरह के होते हैं लेकिन त्वचा सम्बन्धी प्रमुख रोग एक्ज़िमा, सोरायसिस, सनबर्न, झाइयां, कील मुँहासे, दाद-खाज आदि हैं। यदि समय पर इन बिमारियों का इलाज नहीं किया जाता है तो ये सम्पूर्ण शरीर पर अपनी पकड़ बना लेती हैं। भांग के बीज में ओमेगा 3 फैटी एसिड, विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो त्वचा से सम्बंधित सभी तरह के विकारों को दूर करने में मदद करते हैं।

 

6. पाचन तंत्र को सुधारे | Improve your digestive system with Hemp Seeds in Hindi

यदि आप खराब पाचन तंत्र की समस्या से जूझ रही हैं तो पाचन तंत्र को ठीक करने के लिए सबसे बेहतरीन विकल्प भांग बीज है। भांग के बीजों में फाइबर पाया जाता है चूँकि फाइबर एक ऐसा पौष्टिक तत्व है जो कई बीमरियों को ठीक करने के अतरिक्त पाचन तंत्र को भी ठीक करता है। फाइबर कब्ज, गैस, भूख का नहीं लगना आदि कई तरह की पाचन सम्बन्धी समस्याओं में फायदेमंद होता है अतः पाचन तंत्र को सही करने के लिए आप भांग बीज का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

7. बढते वजन को कम करता है | It helps to decrease your weight

बढ़ते वजन को नियंत्रण में करने के लिए कई तरह की सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल किया जाता है जो शरीर के लिए बेहद घातक होते हैं। बड़ा हुआ वजन को कम करने के लिए हमेशा प्राकृतिक उपायों का ही इस्तेमाल करना चाहिए। प्राकृतिक चीजों के इस्तेमाल से यदि किसी व्यक्ति को फायदा नहीं होता है तो किसी भी प्रकार का नुकसान भी नहीं होता है। बता दें भांग बीज प्राकृतिक है जिसमें विटामिन्स, खनिज, मिनल्स भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं। भांग बीज में पाया जाने वाला फाइबर, मैग्नीशियम बढ़ते हुए वजन को नियंत्रित करने में सहायक होते हैं।

 

8. बालों को प्रदान करता है कुदरती चमक | Keeps your hair silky with Hemp Seeds in Hindi

बालों की देखभाल करने में अक्सर हम लोग लापरवाही करते हैं जिसकी वजह से असमय ही बाल झड़ने लगते हैं, बालों की बढ़ने की ग्रोथ कम हो जाती है, बाल रूखे और बेजान हो जाते हैं। भांग बीज में प्रोटीन, विटामिन ई और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो बालों को लम्बा, घना और कुदरती चमकदार बनाने में मदद करते हैं।

 

9. भांग बीज मधुमेह में है लाभकारी | Cannabis seed is beneficial in diabetes

भांग के बीजों में ओमेगा 3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड पाया जाता है। ओमेगा 3 पॉलीअनसैचुरेटेड फैटी एसिड मधुमेह के रोगियों के लिए फायदेमंद होता है। यह एक ऐसा एसिड होता है जो शरीर के रक्त में शुगर के स्तर को कम करता है और मधुमेह को नियंत्रित करने में मदद करता है। यदि आप मधुमेह रोग से पीड़ित हैं तो आपके लिए भांग बीज का सेवन फायदेमंद सिद्ध होगा।

 

भांग बीज के अन्य फायदे | Some Other Benefits of Hemp Seeds in Hindi

hemp seeds image

1. भांग बीज में पाया जाने वाला विटामिन ई आँखों के लिए फायदेमंद होता है।

2. भांग बीज कोलस्ट्रोल को नियंत्रित करता है जो हाई ब्लड प्रेशर रोगियों के लिए लाभकारी होता है।

3. भांग बीज में एंटी-कैंसर गुण और कैनबिनोइड तत्व पाए जाते हैं जो कई तरह के कैंसर को होने से रोकते हैं।

4. कैल्शियम, प्रोटीन, आयरन भांग बीज में पाए जाते हैं जिसकी वजह से यह शारीरिक कमजोरी को दूर करने में फायदेमंद होते हैं।

5. भांग बीज में एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो शरीर की सूजन को कम करने में लाभकारी होते हैं।

 

भांग बीज का उपयोग किस प्रकार कर सकते हैं | Uses of Hemp Seeds in Hindi

hemp seeds uses

दोस्तों भांग बीजों के फायदों के बारे में जानने के बाद आपके मन में यह सवाल अवश्य ही उठ तरह होगा की आखिर भांग बीजों का इस्तेमाल कैसे किया जाता है। तो चलिए आपको बताते हैं आप भांग बीजों का उपयोग किस प्रकार से कर सकते हैं।

1. हेम्प सीड्स यानि भांग बीज का उपयोग आप दूध में डालकर कर सकते हैं।

2. भोजन करते समय भांग बीज का उपयोग किया जा सकता है।

3. भांग के बीजों को महीन पीसकर किसी भी पेय पदार्थ में डालकर सेवन कर सकते हैं।

4. सलाद में भांग बीजों के पाउडर को डालकर भांग बीजों का उपयोग किया जा सकता है।

5. भांग बीज का सेवन आप दही या छांछ के साथ कर सकते हैं।

6. दलिया में मिलाकर भांग बीजों का इस्तेमाल किया जा सकता है।

7. भांग बीजों का पेस्ट बनाकर उपयोग किया जा सकता है।

8. भांग बीज का इस्तेमाल आप चटनी बनाकर भी कर सकते हैं।

9. भांग बीज का इस्तेमाल आप दवाई के रूप में भी कर सकते हैं।

 

नोट: भांग बीज किसी भी तरह की बीमारी को पूर्ण तरीके से ठीक नहीं करता है। भांग बीज केवल बड़ी हुई बिमारियों की रोकधाम करने में फायदेमंद होता है। भांग बीज का इस्तेमाल एक संतुलित मात्रा में ही करना लाभकारी होता हैं। भांग बीज का इस्तेमाल करने से पहले लोगों को डॉक्टर का परामर्श अवश्य लेना चाहिए।

 

भांग बीज के नुकसान | Side Effects of Hemp Seeds in Hindi

 

भांग एक नशीला पदार्थ है इसलिए इसके बीज का सेवन भी बड़ी ही सावधानी पूर्वक करना चाहिए। असन्तुलि मात्रा में भांग के बीजों का सेवन करना शरीर के लिए घातक साबित हो सकता है। इसलिए अब हम आपको भांग के बीज से होने वाले नुकसानों से अवगत कराने वाले हैं।

1. भांग के बीज के अत्यधिक सेवन से दस्त लगना और diarrhea जैसी समस्या हो सकती हैं।

2. गर्भवती महिलाओं को भांग बीज का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसके सेवन से गर्व में पल रहे शिशु को नुकसान पहुँचता है।

3. स्तनपान करने वाली महिलाओं को इसका सेवन नहीं करना चाहिए क्यूंकि यह एक नशीला पदार्थ है जिसकी वजह से शिशु का मानसिक विकास कमजोर हो जाता है।

4. भांग के अत्यधिक सेवन से आँखों को नुकसान पहुँचता है जिसकी वजह आंखे लाल हो जाती हैं।

5. भांग के बीज में डोपामीन हार्मोन पाया जतब है जो अत्यधिक ख़ुशी को बढ़ावा देता है जिसकी वजह से लोग इसका सेवन अत्यधिक मात्रा में करने लगते हैं। अत्यधिक मात्रा में सेवन करने के कारण व्यक्तियों की याददाश्त कमजोर हो जाती है।

6. भांग बीज का इस्तेमाल बीड़ी या सिगरेट के साथ करने से फेफड़े ख़राब हो जाते हैं।

7. किसी भी तरह की एलर्जी वाले लोगों को भांग बीज का उपयोग करना नुकसानदायक रहता है।

 

यह भी पढ़िए: चिया बीज क्या है, जानिए इसके फायदे

 

तो दोस्तों ये थी भांग के बीज (Hemp seeds in hindi) से जुड़ी कुछ जानकारी। हम आशा करते हैं की आप भांग के बीज के समस्त फायदे और नुकसानों से परिचित हो गए होंगे। अगर आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के बीच शेयर जरूर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें।
हमसे जुड़े रहने के लिए पास में दिए घंटी के बटन को दबा कर ऊपर आये नोटिफिकेशन पर Allow का बटन दबा दें जिससे की आप अन्य खबरों का लुफ्त भी उठा पाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here