blackberry in hindi

About Blackberry in Hindi: दोस्तों प्रकृति ने हमें अनेक फल दिए हैं जो खाने में स्वादिष्ट होने के साथ-साथ स्वास्थ के लिए भी काफी लाभकारी होते हैं। ऐसे ही फलों में से एक है ब्लैकबेरी। इस फल के बारें में बहुत कम लोग जानते हैं। बता दें कि blackberry बेहद आकर्षित व रसीला फल है। इसमें अनेक प्रकार के पौष्टिक तत्व पाए जाते हैं जो सौन्दर्य और स्वास्थ दोनों के लिए लाभदायक होते हैं।

जिस वस्तु में स्वास्थवर्धक गुण पाए जाते हैं आयुर्वेद में उसको औषधि कहा जाता है। अतः ब्लैकबेरी भी एक ऐसी औषधि है जिसका उपयोग न सिर्फ फल के रूप में बल्कि इसके पेड़, तना, जड़ एवं पत्तियों का इस्तेमाल भी अनेक प्रकार के रोगों के उपचार में किया जाता है। ब्लैकबेरी के विषय में इतना जानने के बाद अवश्य ही आपके मन में blackberry से होने वाले फायदे एवं इससे सम्बन्धी अन्य तथ्यों को जानने की इच्छा जाग्रत हो रही होगी। तो देर किस बात की चलिए आपको ब्लैकबेरी की सम्पूर्ण जानकारी से रूबरू कराते हैं।

 

Page Contents

क्या है ब्लैकबेरी | What is Blackberry in Hindi

ब्लैकबेरी एक सदाबहार विदेशी फल है। कहा जाता है की यह यूरोप का मूल निवासी है हालांकि इसका इस्तेमाल अमेरिका, ऑस्ट्रेलिया और एशिया जैसे महाद्वीप के अधिकांश देशों में किया जाता है। यह एक ऐसा फल है जिसकी एक नहीं बल्कि कई प्रजातियां पाई जाती हैं एवं इसकी सभी प्रजातियों को दुनियाभर में अलग-अलग नामों से जाना जाता है। ब्लैकबेरी को ब्रिटेन में ब्रम्बल (Bramble) कहा जाता है जबकि अमेरिका में इसको कैनबेरी भी कहा जाता है।

ब्लैकबेरी दिखने में जामुन की तरह होती हैं परन्तु यह जामुन नहीं है। अक्सर लोगों में जामुन और ब्लैकबेरी को लेकर भ्रान्ति बनी हुई है इसलिए अधिकतर लोग जामुन को ही ब्लैकबेरी समझने की गलती करते हैं जबकि दोनों ही फल एक दूसरे से अलग हैं। दोस्तों जामुन का रंग बैंगनी और हल्का गुलाबी और काला होता है जबकि ब्लैकबेरी का रंग लाल, हरा व गहरा काला होता है। जामुन को अंग्रेजी में Blackberry नहीं बल्कि Black Plum या Java Plum कहा जाता है।

blackberry vs jamun

इतना ही नहीं अगर आप ध्यान से देखेंगे तो पाएंगे की ब्लैकबेरी गुच्छे में पास-पास लगी होती हैं जबकि जामुन गुच्छे में दूर-दूर होते हैं। ब्लैकबेरी फल का आकार शहतूत फल के बराबर होता है एवं जामुन का आकार अंगूर के बराबर होता है। इन सभी के अतिरिक्त सबसे बड़ा अंतर यह है कि ब्लैकबेरी का वानस्पतिक नाम रूबस (Rubus) है और यह Rosaceae परिवार का है जबकि जामुन का वानस्पतिक नाम Syzygium cumini है और यह Myrtaceae परिवार का है।

 

ब्लैकबेरी का पौधा | What does Blackberry plant look like

blackberry plant in hindi

ब्लैकबेरी का पौधा पर्णपाती पौधा होता है। इसकी लम्बाई 3 से 4 मीटर तक होती है। इसकी डालियाँ घनी व घुमाओं दार टेडी होती हैं। ब्लैकबेरी के पौधे की पत्तियां दाँतदार होती हैं जो 3 से 15 सेमी तक लम्बी होती हैं। ब्लैकबेरी में बेहद सुन्दर गुलाबी या सफेद रंग के फूल लगते हैं जो पांच पखुड़ियों में खिले-खिले नजर आते हैं। इन फूलों में ही ब्लैकबेरी फल लगते हैं जो शुरुआत में हरे और गुलाबी या लाल रंग के होते हैं लेकिन जब फल परिपक्क अवस्था में होते हैं तो काले रंग के हो जाते हैं चूँकि इनका रंग काला होता है इसलिए हम इस फल को ब्लैकबेरी के नाम से जानते हैं।

 

ब्लैकबेरी के प्रकार | Types of Blackberry in Hindi

दोस्तों दुनियाभर में ब्लैकबेरी के कई प्रकार पाए जाते हैं लेकिन हम आपको इसकी प्रचलित प्रजातियों के बारे में बताने वाले हैं जो स्वादिष्ट होने के साथ ही लाभकारी भी हैं। बता दें कि मूलरूप से ब्लैकबेरी तीन प्रकार की होती हैं।

 

1. कांटेदार ब्लैकबेरी | Erect thorny Blackberries 

इस प्रकार की ब्लैकबेरी के फल मध्यम आकार के रस युक्त होते हैं एवं इसके पौधे की पत्तियां कांटेदार ट्राइफॉलेट होती हैं। इसकी पत्तियां कांटेदार होती हैं इसलिए इस प्रकर की ब्लैकबेरी को कांटेदार ब्लैकबेरी कहा जाता है।

 

2. लोगनबेरी | Loganberries

लोगनबेरी का फल आकर्षित और कांटेदार ब्लैकबेरी से बड़ा होता है। इस फल का रंग गहरा हरा या गहरा लाल होता है जो स्वाद खट्टा और मीठा होता है। इसका उपयोग अधिकतर जूस या वाइन बनाने में किया जाता है।

 

3. मरियनबेरी | Marionberries

मरियनबेरी बेहद पौष्टिक होती है एवं इसमें एंटीऑक्सीडेंट प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं। मरियनबेरी दिखने वाले लोगनबेरी और कांटेदार ब्लैकबेरी से बड़ी एवं गोल होती है जो खाने में बेहद स्वादिष्ट लगती है।

 

ब्लैकबेरी में पाए जाने वाले पौष्टिक तत्व | Nutrients of Blackberry in Hindi

ब्लैकबेरी गुणकारी फल है जिसका उपयोग कई तरह के रोगों को ठीक करने के लिए किया जाता है। शरीर को स्वस्थ बनाने के लिए विटामिन एवं खनिज की आवश्यकता होती है। बता दें कि ब्लैकबेरी में कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फॉस्‍फोरस, फाइबर, विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन बी1, विटामिन बी2, विटामिन बी6, फोलेट, फ्लेवोनॉयड, फैटी एसिड व एन्टीऑक्सडेंट तत्व पाए जाते हैं जो शरीर को स्वस्थ बनाने में महत्पूर्ण भूमिका निभाते हैं।

 

ब्लैकबेरी के फायदे | Benefits of Blackberry in Hindi

blackberry benefits in hindi

दिखने में छोटा सा ब्लैकबेरी फल कई घातक रोगों से शरीर को मुक्ति दिलाने में फायदेमंद होता है। यदि आप भी अपनी सेहत को स्वस्थ बनाना चाहते हैं तो आपके लिए ब्लैकबेरी बेहद ही लाभकारी फल है। दोस्तों हम जानते हैं कि बहुत ही कम लोगों को इसके लाभ मालुम हैं इसलिए अब हम आपको इसके तमाम फायदों से परिचित करवाने वाले हैं।

 

1. आँखों के लिए बेहद फायदेमंद है ब्लैकबेरी

आँखे शरीर का अहम हिस्सा होती हैं एवं आँखों के माध्यम से ही हम इस सुन्दर सृष्टि को देख सकते हैं। इसलिए आँखों का स्वस्थ रहना जरुरी है। वर्तमान समय में देखा जाये तो आँखों से सम्बंधित अनेक प्रकार के रोग उभर रहे हैं जो आँखों के लिए बेहद हानिकारक होते हैं। सामान्य रोगों में जैसे आँखों का लाल होना, आँखों में सूजन रहना, आँखों में जलन होना एवं आँखों की रोशनी का कम होना शामिल है।

यदि आपको आँखों से सम्बंधित किसी भी तरह का रोग है तो आप ब्लैकबेरी का इस्तेमाल कर सकते हैं क्यूंकि इसमें विटामिन ए, विटामिन बी, विटामिन ई भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं जो आँखों को रोग मुक्त बनाने में फायदेमंद होते हैं।

 

2. शारीरिक चर्बी को कम करने में है मददगार

शारीरिक चर्बी शरीर के किसी भी हिस्से में देखी जा सकती है लेकिन यह सबसे अधिक कमर और पेट पर ही देखी जाती है। अत्यधिक फैट जमा होने के कारण शरीर में चर्बी बढ़ जाती है जिसके कारण व्यक्ति को अनेक तरह की बिमारियों का सामना करना पड़ता है। यदि आप बड़ी हुई चर्बी या मोटापा से परेशान हैं तो आप ब्लैकबेरी का उपयोग कर सकते हैं। ब्लैकबेरी में फैटी एसिड, मैग्नीशियम, पोटैशियम और फाइबर पाया जाता है जो मोटापा और चर्बी को कम करने में सक्षम होते हैं।

 

3. त्वचा को बनाता है जवां और खूबसूरत

इंसान का रंग काला हो या गोरा लेकिन वह सुन्दर तो चमकती त्वचा के कारण ही लगता है। मुँहासे, पिम्पल्स, झाइयां, दाग, धब्बे त्वचा की चमक को छीन लेते हैं जिसकी वजह से त्वचा अस्वस्थ और बेजान हो जाती है। यदि आप इन सभी समस्याओं से छुटकारा पाकर अपनी त्वचा को जवां बनना चाहते हैं तो ब्लैकबेरी का इस्तेमाल कर सकते हैं। ब्लैकबेरी में विटामिन सी और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो त्वचा को खूबसूरत और जवां बनाने में कारगर होते हैं।

 

4. डिप्रेशन को करता है कम

वर्तमान जीवनशैली में डिप्रेशन की समस्या से न सिर्फ बड़े जूझ रहे हैं अपितु बच्चे भी इस बीमारी से ग्रस्त हैं। वर्तमान में डिप्रेशन में रहने वाले 300 मिलियन लोगों में से 50 प्रतिशत लोगों का कई कारणों से इलाज नहीं किया जाता है इसलिए डिप्रेशन यानि तनाव के शुरआती लक्षण सामने नहीं आ पाते है अतः इसका इलाज तुरंत कराना चाहिए। डिप्रेशन से निजात दिलाने में ब्लैकबेरी कारगर उपाय है। ब्लैकबेरी में मैग्नीशियम और फॉस्फोरस मुख्य रूप से पाया जाता है जो डिप्रेशन को कम करता है।

 

5. लाल रक्त कोशिकाओं के निर्माण में है लाभकारी

शरीर में खून का स्तर बढ़ाने के लिए लाल रक्त कोशिकाओं की आवश्यकता होती है। जब शरीर में लाल रक्त कोशिकाओं की कमी हो जाती है तो शरीर में खून की कमी होने लगती है एवं कभी-कभी शरीर में अत्यधिक लाल रक्त कोशिकाओं की कमी के कारण शरीर एनिमिया रोग से ग्रस्त हो जाता है।

ब्लैकबेरी एक ऐसा खाद्य पदार्थ है जिसकी मदद से आप लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ा सकते हैं। जी हाँ दोस्तों ब्लैकबेरी में विटामिन बी 2 पाया जाता है जो लाल रक्त कोशिकाओं को बढ़ाता है। यदि आप प्रतिदिन ब्लैकबेरी का इस्तेमाल करते हैं तो आप एनिमिया रोग से अपने शरीर का बचाव कर सकते हैं।

 

6. सूजन और दर्द को कम करने में है मददगार

सूजन और दर्द एक ऐसी समस्या है जो किसी भी समय किसी भी व्यक्ति को चोट, इंफेक्शन, गलत खान पान आदि के कारण हो सकती है। यदि आपके शरीर के किसी भी हिस्से में दर्द या सूजन है तो आप ब्लैकबेरी का इस्तेमाल कर सकते हैं। ब्लैकबेरी में विटामिन बी 2, विटामिन बी 6, विटामिन ई, मैग्नीशियम, फॉस्फोरस और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में होने वाले किसी भी तरह के दर्द और सूजन से छुटकारा दिलाने में मदद करते हैं।

 

7. बालों को लम्बा घना चमकदार बनाने में है कारगर

लम्बे घने चमकदार बालों के दीवानों के लिए ब्लैकबेरी रामबाण औषधि है। बालों को पोषण देने वाले सभी विटामिन्स और खनिज ब्लैकबेरी में पाए जाते हैं जो बालों के लिए आवश्यक होते हैं। जो लोग रुसी, बालों का झड़ना, बालों का रुखा होना आदि समस्या से पीड़ित हैं उनके लिए भी ब्लैकबेरी अत्यंत लाभकारी औषधि है। ब्लैकबेरी में विटामिन ए, विटामिन ई, विटामिन सी, विटामिन बी 6 और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते है जो बालों को लम्बा, घना, चमकदार बनाने में फायदेमंद होते हैं।

 

8. ब्लैकबेरी करता है शारीरिक थकावट को दूर

दिनभर काम करने के कारण शरीर की मांसपेशियों के कार्य करने के क्षमता कम हो जाती है अर्थात शाम होते ही व्यक्ति को थकान महसूस होने लगती है एवं कभी-कभी यही शारीरिक थकावट तनाव का कारण भी बनती है। जब शरीर की मांसपेशियां ठीक तरीके से कार्य नहीं करती हैं तो व्यक्ति अपने निजी कार्य करने में भी असमर्थ हो जाता है इसलिए मांसपेशियों का स्वस्थ होना शरीर के लिए बेहद जरुरी है।

ब्लैकबेरी में पोटैशियम प्रचुर मात्रा में पाया जाता है। दोस्तों पोटैशियम एक ऐसा तत्व है जो मांसपेशियों के कार्यों में सुधार करके बिना थके अधिक समय तक कार्य करने के लिए तैयार करता है। यदि आप थकावट की समस्या से ग्रस्त हैं तो आप ब्लैकबेरी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

ब्लैकबेरी के अन्य फायदे | Some Other Benefits of Blackberry in Hindi

1. ब्लैकबेरी में पोटैशियम पाया जाता है जो ब्लड प्रेशर वाले रोगियां के लिए फायदेमंद होता है।

2. ब्लैकबेरी में फॉस्फोरस और कैल्शियम पाया जाता है जो हड्डियों और मांसपेशियों को स्वस्थ बनाने में लाभकारी होते हैं।

3. इसमें उच्च मात्रा में फाइबर पाया जाता है जो वजन को आसानी से कम करने में लाभकारी होता है।

4. पाचन तंत्र की खराबी से परेशान लोगों के लिए ब्लैकबेरी का इस्तेमाल लाभकारी होता है क्यूंकि इसमें फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट तत्व पाए जाते हैं जो पाचन तंत्र को स्वस्थ बनते हैं।

5. कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने के लिए ब्लैकबेरी का उपयोग फायदेमंद होता है।

 

ब्लैकबेरी का उपयोग | Uses of Blackberry in Hindi

blackberry ke upyog

दोस्तों ब्लैकबेरी एक स्वादिष्ट फल है जिसका उपयोग आप अपनी पसंद के मुताबिक कर सकते हैं। अतः ब्लैकबेरी का उपयोग आप कई तरह से कर सकते हैं। तो आइये जानते हैं कि ब्लैकबेरी का इस्तेमाल कौन-कौन से रूपों में किया जा सकता है।

1. ब्लैकबेरी के गुणकारी तत्वों को पूर्णतः ग्रहण करने के लिए आप इसका जूस बनाकर उपयोग कर सकते हैं।

2. नए अंदाज में सब्जी खाने के शौकीन हैं तो आप ब्लैकबेरी की सब्जी बनाकर सेवन कर सकते हैं।

3. चटनी के रूप में ब्लैकबेरी का इस्तेमाल कर सकते हैं।

4. ब्लैकबेरी का उपयोग सॉस, केक, पुलाव आदि में किया जा सकता है।

 

ब्लैकबेरी से होने वाले नुकसान | Side Effects of Blackberry in Hindi

किसी भी खाद्य वस्तु को खाने से पहले उसके फायदों के आलावा उससे होने वाले नुकसानों के बारे में जानकारी होना भी आवश्यक है। यदि आप किसी वस्तु से होने वाले नुकसानों के बारे में नहीं जानते हैं तो यह आप के लिए घातक भी साबित हो सकता है। इसलिए चलिए अब आपको ब्लैकबेरी से होने वाले कुछ नुकसानों से भी रूबरू करवा देते हैं।

1. मधुमेह रोगियों के लिए इसका उपयोग सीमित मात्रा में करना चाहिए क्योंकि इसमें फॉस्फोरस पाया जाता है जो मधुमेह रोग को बढ़ावा देता है।

2. इसके अत्यधिक सेवन से खट्टी डकारें आ सकती हैं एवं उलटी की समस्या उत्पन हो सकती है।

3. इसमें खून को पतला करने वाले तत्व पाए जाते हैं। इसलिए यदि आप खून को पतले करने वाली दवाइयों का सेवन कर रहे हैं तो इसका सेवन करने से बचें।

4. ब्लैकबेरी खाने के बाद दूध का सेवन करने से कब्ज की समस्या उत्पन्न हो सकती है।

5. गर्भवती महिलाओं को इसका उपयोग नहीं करना चाहिए।

 

तो दोस्तों ये थी ब्लैकबेरी (blackberry in hindi) से जुड़ी कुछ जानकारी। हम आशा करते हैं की आप ब्लैकबेरी के समस्त फायदे और नुकसानों से परिचित हो गए होंगे। अगर आपको हमारी यह जानकारी पसंद आई हो तो इसे अपने दोस्तों के बीच शेयर जरूर करें और ऐसी ही जानकारी पड़ते रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें।
हमसे जुड़े रहने के लिए पास में दिए घंटी के बटन को दबा कर ऊपर आये नोटिफिकेशन पर Allow का बटन दबा दें जिससे की आप अन्य खबरों का लुफ्त भी उठा पाएं।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here