इंसान इस दुनिया में अकेला आता है और यहाँ से जाता भी अकेला है। परन्तु इस दुनिया में रहते हुए उसे कई मुसाफिर मिलते हैं जिनसे वो बंधनो में बंध जाता है और फिर बिछड़ने पर दर्द होता है। जी हाँ ये ही है जुदाई। असल में कोई भी अपने अजीज से जुदा नहीं होना चाहता पर कभी-कभी नियति को कुछ और ही मंजूर होता है। आज हम आपको जुदाई के ऊपर कुछ स्पेशल शायरी (Judai Shayari) सुनाने जा रहे हैं।

 


Best Judai Shayari


 

जुदाई शायरी – खुद ही जुदा हुए थे  

दर्द का बहाना दे कर
वो आज मयखाने चले हैं
खुद ही जुदा हुए थे हम से
पर हमें बेवफा ठहराने चले हैं…

Judai Shayari – Khud hi juda huye the  

Dard ka bahana de kar
Wo aaj maykhane chale hai
Khud hi juda huye the hum se
Par hume bewafa therane chale hai…

 


 

शायरी – ये वक्त जुदाई का है  

ये वक्त जुदाई का है
अब हमें जुदा होना होगा
भूलकर तमाम बातें अपनी
अब हमें उम्र भर रोना होगा…

Shayari – Ye waqt judai ka hai  

Ye waqt judai ka hai
Ab hame juda hona hoga
Bhoolkar tamam bate apni
Ab hame umr bhar rona hoga…

 


 

शायरी – हमें जुदाई का गम नहीं  

हमें जुदाई का गम नहीं
गम सनम के चुप रहने का है
दाग बेवफाई का लगा है हम पे
समय अब सच कहने का है…

Shayari – Hume judai ka gum nahi  

Hume judai ka gum nahi
Gum sanam ke chup rehne ka hai
Daag bewafai ka laga hai hum pe
Samay ab sach kehne ka hai…

 


 

शायरी – पीता हूँ जुदा होने के बाद  

इस दिल को आदत ऐसी डाल दी
नजरों ने तेरी पिलाकर
पीता हूँ जुदा होने के बाद
अपने ही अश्कों की मय समझकर…

Shayari – Peeta hu juda hone ke baad  

Is dil ko aadat aisi daal di
Najro ne teri pilakar
Peeta hu juda hone ke baad
Apne hi ashko ki may samajhkar…

 


 

जुदाई शायरी – वक्त ऐ जुदाई  

जब आएगा वक्त ऐ जुदाई
मुझे तुमसे जुदा होना होगा
छिपाकर चेहरा तकिया में
मुझे जी भरकर रोना होगा…

Judai Shayari – Waqt ae judai  

Jab aayega waqt ae judai
Mujhe tumse juda hona hoga
Chipakar chehra takiya me
Mujhe ji bharkar rona hoga…

 


 

शायरी – जुदाई से आग दिल पर लगी  

दोनों के दरमियान में अजब फासला रहा
वो मेरे पास हो कर भी मुझसे जुदा ही रहा
उसकी जुदाई से आग ऐसी दिल पर लगी
मैं अपने आपसे कई बरसों तक खफा रहा…

Shayari – Judai se aag dil par lagi  

Dono ke darmiyan me ajab fasla raha
Wo mere paas ho kar bhi mujhse juda hi raha
Uski judai se aag aisi dil par lagi
Me apne aap se kai varsho tak khafa raha…

 


 

शायरी – राहें जुदा हो गयीं  

जिन्हे हमने चाहा वो निकले बेवफा
फिर हमें उनसे मिलने की जरुरत क्या है
राहें जुदा हो गयीं उनसे अब हमारी
फिर हाल ऐ दिल सुनाने की जरुरत क्या है…

Shayari – Rahe juda ho gayi  

Jinhe humne chaha wo nikle bewafa
Fir hume unse milne ki jarurat kya hai
Rahe juda ho gayi unse ab hamari
Fir haal ae dil sunane ki jarurat kya hai…

 


 

शायरी – तकदीर दर्दे जुदाई  

बेवफा तकदीर दर्दे जुदाई
हर कदम पे रुलाती आई है
अब तक सताया औरों ने
अब बारी मेहबूबा तेरी आई है…

Shayari – Takdeer darde judai  

Bewafa takdeer darde judai
Har kadam pe rulati aai hai
Ab tak sataya auron ne
Ab baari mehbooba teri aai hai…

 


 

शायरी – जुदा पहले भी हुए थे  

ना कसूर तुम्हारा है न कसूर हमारा है
मुकद्दर ही लिखा है अश्कों की रोशनाई से
जुदा पहले भी हुए थे और आज भी
मुकद्दर ही लिखा है महज बेवफाई से…

Shayari – Juda pehle bhi huye the  

na kasoor tumhara hai na kasoor humara hai
Mukaddar hi likha hai ashko ki roshnai se
Juda pehle bhi huye the or aaj bhi
Mukaddar hi likha hai mahaj bewafai se…

 


 

शायरी – जुदाई सही नहीं जाती  

नींद उड़ जाती है मेरी आँखों की
हमसे रात तनहा बिताई नहीं जाती
अब तो चले आओ मेरे सनम
अब हमसे ये जुदाई सही नहीं जाती…

Shayari – Judai sahi nahi jati  

Neend udd jaati hai meri aankho ki
Humse raat tanha bitai nahi jaati
Ab to chale aao mere sanam
Ab humse ye judai sahi nahi jati…

 


Judai Shayari in Hindi


 

judai shayari in hindi

जुदाई शायरी – गम जुदाई का उठा रहा हूँ  

जहर मोहब्बत का पी लिया
अब गम जुदाई का उठा रहा हूँ मैं
सहकर सितम तेरी बेवफाई का
आज तेरी दुनिया से जा रहा हूँ मैं…

Judai Shayari – Gum judai ka utha raha hu  

Zeher mohabbat ka pi liya
Ab gum judai ka utha raha hu me
Sehkar sitam teri bewafai ka
Aaj teri duniya se jaa raha hu me…

 


 

शायरी – इश्क में जुदाई का दर्द  

हर महफ़िल से जो निकाला गया हो
उससे पूछो रुस्वाई का दर्द
ठोकर खा कर जो बैठा हो
उससे पूछो इश्क में जुदाई का दर्द…

Shayari – Ishq me judai ka dard  

Har mehfil se jo nikala gaya ho
Usse pucho ruswai ka dard
Thokar kha kar jo baitha ho
Usse pucho ishq me judai ka dard…

 


 

शायरी – गम नहीं है जुदाई का  

गम नहीं है मुझे तेरी जुदाई का
अफसोस है तूने औरों का आशियाँ बसा दिया
तूने पैसे को अहमियत दी वफा से ज्यादा
पैसे के लिए ही तूने मेरा जहाँ ठुकरा दिया…

Shayari – Gum nahi hai judai ka  

Gum nahi hai mujhe teri judai ka
Afsos hai toone auron ka aashiya basa diya
Toone paise ko ahmiyat di wafa se jyada
Paise ke liye hi toone mera jaha thukra diya…

 


 

शायरी – इश्क का नाम जुदाई है  

इश्क का नाम जुदाई है
गम ऐ जुदाई मिलती है प्यार करने के बाद
नाम बदनाम होता है जमाने में
सिर्फ रुस्वाई मिलती है प्यार करने के बाद…

Shayari – Ishq ka naam judai hai  

Ishq ka naam judai hai
Gum ae judai milti hai pyaar karne ke baad
Naam badnaam hota hai zamane me
Sirf ruswai milti hai pyar karne ke baad…

 


 

जुदाई शायरी – मिलना पड़ेगा जुदाई के बाद  

नहीं था यकीन कभी मुझे
मिलना पड़ेगा जुदाई के बाद
फिर भड़क उठगेंगे जज़्बात मेरे
तुम्हारी उस बेवफाई के बाद…

Judai Shayari – Milna padega judai ke baad  

Nahi tha yakeen kabhi mujhe
Milna padega judai ke baad
Fir bhadak uthenge jazbat mere
Tumhari us bewafai ke baad…

 


 

शायरी – जुदाई की घड़ी में  

जुदाई की घड़ी में अगर कोई हसीना मिल जाए
तो यूं समझना की सावन का महीना मिल जाए
जोहरी अपने आप को तुम उस वक्त समझना
जब आपको गलियों में कोई नगीना मिल जाए…

Shayari – Judai ki ghadi me  

Judai ki ghadi me agar koi haseena mil jaye
To ye samajhna ki sawan ka maheena mil jaye
Johri apne aap ko tum us waqt samjhna
Jab aapko galiyo me koi nageena mil jaye…

 


 

शायरी – अफ़सोस गम ऐ जुदाई का है  

तुमने तो मुझसे वफ़ा की
फिर क्यों तुम्हें अफ़सोस गम ऐ जुदाई का है
दगा तो की है मैंने तेरे साथ
फिर क्यों तुम्हें अफ़सोस मेरी बेवफाई का है…

Shayari – Afsos gum ae judai ka hai  

Tumne to mujhse wafa ki
Fir kyu tumhe afsos gum ae judai ka hai
Daga to ki hai maine tere sath
Fir kyu tumhe afsos meri bewafai ka hai…

 


 

शायरी – जहर जुदाई का  

जब याद आती है तेरी बेवफाई हमें
दिल खून के आंसू रोता है तन्हाई में
जहर पीना पड़ता है जुदाई का
तड़पना पड़ता है हमें जुदाई में…

Shayari – Zeher judai ka  

Jab yaad aati hai teri bewafai hume
Dil khoon ke aansu rota hai tanhai me
Zeher peena padta hai judai ka
Tadapna padta hai hume judai me…

 


 

शायरी – गम ऐ जुदाई  

तुम क्या मुझे जुदा करोगे संगदिल
तुमने कभी पास आने की इजाजत तो दी होती
एहसास ऐ वफा या गम ऐ जुदाई
महसूस तब होता जब तुमने मोहब्बत की होती…

Shayari – Gum ae judai  

Tum kya mujhe juda karoge sangdil
Tumne kabhi paas aane ki izazat to di hoti
Ehsas ae wafa ya gum ae judai
Mehsoos tab hota jab tumne mohabbat ki hoti…

 


 

शायरी – इजाजत नहीं दर्दे जुदाई सहने की  

तुमने की बेवफाई जानेमन
हमें इजाजत भी नहीं है गिला करने की
तुम हो गयीं जुदा हमसे
हमें इजाजत भी नहीं दर्दे जुदाई सहने की…

Shayari – Ijajat nahi darde judai sehne ki  

Tumne ki bewafai jaaneman
Hume izazat bhi nahi hai gila karne ki
Tum ho gayi juda humse
Hume izazat bhi nahi darde judai sehne ki…

 


Latest Shayari on Judai


 

shayari on judai

जुदाई शायरी – जुदाई सही नहीं जाती  

मुझसे तेरी जुदाई सही नहीं जाती
तेरे बिना जन्नत में रही नहीं जाती
खुदा पूछता है में उम्र से पहले क्यों आ गया
तेरी बेवफाई मुझसे कही नहीं जाती…

Judai Shayari – Judai sahi nahi jaati  

Mujhse teri judai sahi nahi jaati
Tere bina jannat me rahi nahi jaati
Khuda poochta hai me umr se pehle kyu aa gaya
Teri bewafai mujhse kahi nahi jaati…

 


 

शायरी – जब होगी मेरी जुदाई  

जब मेरे शबाब में निखार आएगा
तुम्हें एक नई गजल लिखने का बहाना मिल जाएगा
जब होगी मेरी जुदाई सनम
तुम्हें गम ऐ जुदाई में मरने का बहाना मिल जाएगा…

Shayari – Jab hogi meri judai  

Jab mere shabab me nikhar aayega
Tumhe ek nai gazal likhne ka bahana mil jayega
Jab hogi meri judai sanam
Tumhe gum ae judai me marne ka bahana mil jayega…

 


 

शायरी – जुदाई तो किस्मत में है  

जुदाई तो किस्मत में है हमारी
खुश हैं कुछ पल का प्यार तो मिला
जाते जाते भी खुशियां मेरे नाम कर गया वो
खुश हैं कि कोई ऐसा दिलदार तो मिला…

Shayari – Judai to kismat me hai  

Judai to kismat me hai hamari
Khush hai kuch pal ka pyar to mila
Jate jate bhi khushiya mere naam kar gaya wo
Khush hai ki koi aisa dildaar to mila…

 


 

शायरी – तड़पना पड़ता जुदाई के बाद  

चाहतों का खूब सिला दिया है
तड़पना पड़ता है उसकी जुदाई के बाद
हकीकत में हैं वो गैर के पहलु में
तड़पना पड़ता है उसकी बेवफाई के बाद…

Shayari – Tadapna padta hai judai ke baad  

Chahto ka khoob sila diya hai
Tadapna padta hai uski judai ke baad
Hakikat me hai wo gair ke pehlu me
Tadapna padta hai uski bewafai ke baad…

 


 

जुदाई शायरी – जुदाई नसीब हमारा है  

दुनिया में हो चाहे जितनी बफा
सिर्फ बेवफाई नसीब हमारा है
क्यों धोखा देती हो जज़्बात को
सिर्फ जुदाई नसीब हमारा है…

Judai Shayari – Judai naseeb humara hai  

Duniya me ho chahe jitni wafa
Sirf bewafai naseeb humara hai
Kyu dhokha deti ho jazbat ko
Sirf judai naseeb humara hai…

 


 

शायरी – दिल से जुदा करेंगे  

दे दिया दिल देखें अब आप क्या करेंगे
दिल को रखेंगे दिल में या दिल से जुदा करेंगे
नहीं मोहताज दौलत का जिसे खुदा ने सूरत दी
क्या खूब लगता है चाँद बिना गहने के…

Shayari – Dil se juda karenge  

De diya dil dekhe ab aap kya karenge
Dil ko rakhenge dil me ya dil se juda karenge
Nahi mohtaaj daulat ka jise khuda ne surat di
Kya khoob lagta hai chand bina gehne ke…

 


 

शायरी – दर्द ऐ जुदाई सहना नहीं जानते थे  

इश्क मासूमियत से किया हमने
फरेब करना हम नहीं जानते थे
वो दगाबाज हैं हमें पता था पर
दर्द ऐ जुदाई सहना हम नहीं जानते थे…

Shayari – Dard ae judai sehna nahi jante the  

Ishq masumiyat se kiya humne
Fareb karna hum nahi jante the
Wo dagabaz hai hume pata tha par
Dard ae judai sehna hum nahi jante the…

 


 

शायरी – अफ़सोस हमें जुदाई का है  

हम प्यार तो तुमसे करते हैं
पर अफ़सोस हमें जुदाई का है
खता हमारी माफ़ हो सनम
हमें डर तुम्हारी बेवफाई का है…

Shayari – Afsos hume judai ka hai  

Hum pyar to tumse karte hai
Par afsos hume judai ka hai
Khata humari maaf ho sanam
Hume dar tumhari bewafai ka hai…

 


 

शायरी – दर्द ऐ जुदाई का एहसास  

दर्द होता है ठोकर खाने के बाद
दर्द ऐ जुदाई का एहसास होता है कभी कभी
दिल तो अक्सर टूटता है प्यार में
दूसरों की तड़प का एहसास होता है कभी कभी…

Shayari – Dard ae judai ka ehsas  

Dard hota hai thokar khane ke baad
Dard ae judai ka ehsas hota hai kabhi kabhi
Dil to aksar tootta hai pyar me
Dusro ki tadap ka ehsas hota hai kabhi kabhi…

 


 

शायरी – जुदाई मुमकिन नहीं  

तेरे रास्ते में अपने दिल को बिछाकर
कितनी मन्नतों के बाद तुझे पाया है
अब कोई जुदाई मुमकिन नहीं
खुदा ने एक दूजे के लिए हमें बनाया है…

Shayari – Judai mumkin nahi  

Tere raste me apne dil ko bichakar
Kitni mannto ke baad tujhe paya hai
Ab koi judai mumkin nahi
Khuda ne ek dooje ke liye hume banaya hai…

 


 

तो दोस्तों आपको ये शायरियाँ कैसी लगी नीचे कमेंट करके अवश्य बताइए। इस पोस्ट (Judai Shayari) को शेयर करें और ऐसे ही शायरियाँ पड़ते रहने के लिए हमें सोशल मीडिया पर फॉलो करें।
हमसे जुड़े रहने के लिए पास में दिए घंटी के बटन को दबा कर ऊपर आये नोटिफिकेशन पर Allow का बटन दबा दें जिससे की आप अन्य खबरों का लुफ्त भी उठा पाएं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here